बच्चों को Internet और smartphone की Addiction से कैसे दूर रखें.

आज internet का इस्तेमाल करना हर जगह पर बढ़ गया है. अपने बच्चो को technology के साथ रखने के लिए माता पिता अपने बच्चो को mobiles, gadgtes, लैपटॉप, गेमिंग Computers जैसी चीजे, आज खरीद कर देते है, लेकिन बच्चा  उस पर कोनसा गेम खेल रहा है. smartphone पर क्या देख रहा है. कहीं वो गेमिंग और smartphone के एडिक्ट तो नही हो गया. internet पर क्या browsing क्या कर रहा है इसके बारे में बहोत कम माता पिता  जागरूकता से ध्यान देते है.

Internet

इसी के चलते बच्चे कुछ गलत चीजो के संपर्क में internet पर आ जाते है.

माता पिता दोनों ही job पर हो तो बच्चो का मनोरंजन होना चाहिए और वो कहीं बहार खेलने न जाये.

इसी लिए उन्हें यह इलेक्ट्रॉनिक्स चीजे आजकल दी जाती है.

अभी हाल ही में ब्लू whale गेम की वजह से बहोत से बच्चो ने सुसाइड कर लिया.

Read: How To Win Friends and Influence People. life क्या है सिखा देंगी.

Read: क्या रोज पढने से होते है फायदे, जानिए 10 बड़े फायदे, क्या जानते हैं आप ?

छोटे बच्चो के तरफ ध्यान  देना और उनको अपने रूम में अकेला छोड़ देना. उनके एक्टिविटी के तरफ ध्यान  ना देना ऐसी लापरवाही जानलेवा साबित हो सकती है. इनके चलते कहीं बार  बच्चे गलत चीजो के संपर्क में आ जाते है. बच्चे अगर कुछ ऑनलाइन देख रहे हो या गेम खेल रहे हो उनके एक्टिविटी को नोटिस करना आवश्यक है.

Parents को Internet एक्टिविटी में शामिल  होना चाहिए.

ज्यादातर पेरेंट्स बच्चो के वास्तविक दुनिया में उनके ऊपर ध्यान देते है.

जैसे वो कहा जाते है. कहा खेल रहे है. इसी तरह से पेरेंट्स को बच्चो के साथ ऑनलाइन दुनिया में शामिल होना चाहिए.

वो कोनसा गेम खेल रहे है, internet पर क्या सर्फिंग कर रहे है ब्राउज़र history मे जाकर चेक करना चाहिए.

आप अपने system में मोनिटरिंग सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करके हर कंप्यूटर एक्टिविटी का रिकॉर्ड रख सकते है.

कंप्यूटर या लैपटॉप को हॉल में रखे.

गेमिंग कंप्यूटर या लैपटॉप को बच्चो के बेडरूम में न रखे ऐसी जगह रखे जहा उनपर आपकी आते जाते नजर बनी रहे.

उनकी एक्टिविटी आप आसानी से देख सको.

internet और गेम खेलने के Rules बनाये.

  1. गेम खेलना या browsing करने का समय निर्धारित करे पढाई के वक्त लैपटॉप, कंप्यूटर और मोबाइल का इस्तेमाल करने से रोके.
  2. रात को समय पर सोने से लेकर सही समय पर उठने की आदत बनाये.
  3. रात को मोबाइल लैपटॉप और कंप्यूटर इस्तेमाल करने का समय निर्धारित करे.

social media पर रखे कुछ ध्यान.

  1. social media का इस्तेमाल करते वक्त अनजान लोगों से दोस्ती करने से रोके, social media friends की जाँच करते रहे.
  2. अपनी निजी जानकरी किसी से शेयर न करने के लिए उन्हें शिक्षित करे.

आपत्ति जनक बातों को शेयर करने के लिए उन्हें motivate करे.

अगर आप बच्चो के साथ प्यार से पेश आते है और उन्हें हर बात के लिए suggest करते है.

तो वो आपसे हर बात शेयर करेंगे. कोई भी एक्टिविटी उनके साथ ऑनलाइन घटती है ऐसी बातों को शेयर करने के लिए प्रोत्साहित करे.

आप चाहे कितने भी बिजी क्यों ना हो उन्हें वक्त दे उनके साथ वक्त बिताये.

उनसे बातें करे. यह सब आप अपने बच्चो के लिए और उनके  ख़ुशी के लिए कर सकते है.

एक अच्छी और खुशहाल जिंदगी के लिए बच्चो के सामने लढाई झगडा ना करे जिससे  उनके नाजुक मन को ठेस लगे,

आशा करता हु आपको यह लेख पसंद आया होगा. इस post को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे.

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *